मङ्गलबार, ०६ चैत २०७४, १३ : ३०

आजतकले लेख्यो “भारतकी जी–हजुरी नहीं करेगा नेपाल : प्रचण्ड”

AAj TAK News

भारत की जी-हुजूरी नहीं करेगा नेपाल: प्रचंड

नेपाल के प्रमुख राजनेताओं ने सोमवार को भारत और चीन के साथ अच्छे रिश्ते रखने की वकालत की. वहीं, यूनाइटेड कम्युनिस्ट पार्टी (माओवादी) के पुष्प कमल दहल प्रचंड ने कहा कि नेपाल भारत का अच्छा दोस्त बनना चाहता है, लेकिन उसकी जी-हुजूरी करने वाला नहीं बनना चाहता.

नेपाल में भारतीय सीमा से लगे हिस्सों में नये संविधान को लेकर रविवार को हुए हिस्रक प्रदर्शन  पर भारत ने चिंता जताते हुए बातचीत से मतभेद सुलझाने को कहा था. इसके एक दिन बाद प्रचंड ने यह बात कही. रविवार को नेपाल का नयाँ संविधान  जारी हुअा था .

स्वागत करें भारत-चीन
संविधान लागू करने के मौके पर तुंडीखेल मैदान में आयोजित संयुक्त रैली को संबोधित करते हुए प्रचंड ने कहा कि नेपाल भारत की चिंताओं पर ध्यान देने को तैयार है. लेकिन भारत से भी ऐसे ही रुख की उम्मीद है. अपने भारत विरोधी रुख के लिए पहचान जाने वाले प्रचंड ने कहा कि भारत और चीन को संविधान लागू होने के इस ऐतिहासिक पल का स्वागत करना चाहिए.

पड़ोसी देशों से हों अच्छे रिश्तेः कोइराला
इसी सभा को संबोधित करते हुए प्रधानमंत्री सुशील कोइराला ने कहा कि नेपाल दोनों पड़ोसी देशों भारत और चीन के साथ सौहार्दपूर्ण रिश्ते रखकर आगे बढ़ना चाहता है.

WRITE COMMENTS FOR THIS ARTICLE

YOU MAY ALSO LIKE